राज्य और देश के विकास के लिए प्रधानमंत्री ने लिए कई बड़े फैसले: डॉ. रमन सिंह

0
370

रायपुर.  मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा कि किसी भी देश या राज्य के तेजी से विकास के लिए बड़े निर्णय लेने की जरूरत होती है। यह काम प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने किया है। उन्होंने नीति आयोग का गठन किया। उनकी पहल पर केन्द्रीय राजस्व में राज्य का हिस्सा 32 प्रतिशत से बढ़कर 42 प्रतिशत हो गया है। डॉ. रमन सिंह आज रात यहां एक प्राईवेट टेलीविजन चैनल द्वारा आयोजित ‘राईजिंग छत्तीसगढ़’ कार्यक्रम में नागरिकों को सम्बोधित कर रहे थे।
उन्होंने कहा कि केन्द्रीय राजस्व में राज्यों का हिस्सा दस प्रतिशत बढ़ने पर और खनिज बहुल जिलों में डिस्ट्रक्ट मिनरल फाउडेशन बनने पर छत्तीसगढ़ को हर साल 22 सौ करोड़ रूपए की अतिरिक्त राशि मिल रही है। प्रधानमंत्री ने खदान नीलामी की प्रक्रिया को पारदशी बनाया है। डॉ. सिंह ने छत्तीसगढ़ राज्य के निर्माण और विकास की अबतक की बड़ी उपलब्धियों पर भी प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि कनेक्टिविटी बढ़ने पर ही किसी राज्य की अर्थव्यवस्था तेजी से बढ़ती है इसे ध्यान में रखकर हम रेल, सड़क, एयर और टेलिकाम कनेक्टिीविटी बढाने पर योजना बनाकर काम कर रहे हैं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि बस्तर और सरगुजा का विकास तेजी से हो यह हमारी प्राथमिकता में है। बस्तर में एक नए भिलाई का निर्माण हो रहा है। बस्तर के नगरनार में स्टील प्लांट आगामी 2-3 माह में तैयार करने का लक्ष्य है। इसी प्रकार इन दोनों जिलों में मेडिकल कालेज की स्थापना की गई है। इन क्षेत्रों में सड़कों का जाल बिछाया जा रहा है। बस्तर जाने के लिए अच्छी सड़क बन गई है। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ में सरकार की लम्बे समय तक स्थिरता से विकास के लिए नितियों और योजनाओं निर्माण और उसके क्रियान्वन और मानिटरिंग से जनता तक योजनाओं को पहुंचाने में मदद मिली । राज्य में 55 लाख परिवारों तक सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत खाद्यान्न वितरण पूरी पारदर्शिता के साथ किया गया। इसी सराहना पूरे देश भर में हुई है।
उन्होंने कहा – राज्य में विकास को गति देने के लिए प्रशासनिक विकेन्द्रीकरण किया गया जिलों की संख्या 16 से बढ़ाकर 27 की गई। आज ये जिले विकास के केन्द्र के रूप में उभर रहे हैं। पूरे राज्य में स्वास्थ्य, शिक्षा, कृषि सेक्टर में योजना बनाकर हमने पिछले 15 वर्षों में कार्य किया है। शिक्षा के क्षेत्र में बस्तर के जवांगा में राज्य का सबसे बड़ा एजुकेशन हब बनाया गया है। इसी प्रकार बीजापुर में अत्याधुनिक सुविधा से लैस अस्पताल का निर्माण किया गया है। सभी गांवों में बिजली पहुंचाने का लक्ष्य रखा गया है। सात लाख 40 हजार घरों में जल्द बिजली पहंुचाने का काम किया जा रहा है। आगामी 3-4 महीने में राज्य के हर गांव तथा हर घर में बिजली पहुंच जाएगी। अब तक 3 लाख 40 हजार घरों में बिजली पहुंच चुकी है। स्वास्थ्य के क्षेत्र में पहले सिर्फ एक नर्सिंग कालेज था वह बढ़कर 48 हो गया है। अब छत्तीसगढ से देश के अन्य क्षेत्रों में नर्स जा रही है। कार्यक्रम का आयोजन प्राइवेट टी.व्ही चैनल न्यूज 18 (मध्यप्रदेश-छत्तीसगढ़) द्वारा किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.