जम्मू-कश्मीर दौरे पर आए यूरोपीय यूनियन सांसदो ने कहा कश्मीर में हालात बेहतर है तो भड़क गए ओवैसी, यूरोपीय सांसदो पर दे दिया यह विवादित बयान 

0
246
Asaduddin Owaisi told European Union MPs who visited Jammu and Kashmir to be hit by Hitlerists and Islamophobia

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से ही पाकिस्तान बौखलाया हुआ है और वह जम्मू-कश्मीर में दहशत होने का प्रोपेगेंडा फैला रहा है। इसी बिच जम्मू-कश्मीर की जमीन हकीकत जानने यूरोपीय यूनियन प्रतिनिधिमंडल ने जम्मू-कश्मीर का दो दिवसीय दौरा पुरा कर लिया है। जम्मू-कश्मीर के हालात जानने के बाद  यूूरोपीय सांसदो ने वहां के लोगो से चर्चा की और श्रीनगर की डल झील की यात्रा भी की। जिसके बाद सांसदो का यह प्रतिनिधिमंडल मीडिया के सामने आया और मीडिया से बातचीत की। इस दौरान सांसदो ने कहा की जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाए जाने का मामला भारत का आंतरिक मामला है। इसके लिए भारत के प्रति अपना समर्थन व्यक्त करते है। सांसदो ने यह भी कहा की जम्मू-कश्मीर के हालात बेहरत हो रहें। लेकिन ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिममीन पार्टी (AIMIM) के असदुद्दीन ओवैसी भड़क गए है। उन्होंने विवादित बयान दिया है।

सांसदो की विचारधारा जुड़ी है हिटलर से 

यूरोपीय संघ के सांसदो द्वारा जम्मू-कश्मीर के हालात पर सबकुछ बेहतर बताया  एवं उन्होंने धारा 370 को भारत का आंतरीक मामला बताते हुए कहा की हम भारत के साथ है, यूरोपीय संघ के सांसदो ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी मुलाकात की। यूरोपीय सांसदो के कश्मीर दौरे पर AIMIM के अध्यक्ष और सांसद असदुद्दीन ओवैसी भड़क गए है। औवेसी ने पहले एक ट्वीट करते हुए मशहुर गाने के माध्यम से सरकार पन निशाना साधा था। जिस ट्वीट में ओवैसी ने गाना लिखा की लिखा की “गैरों पर करम अपनो पर सीतम, ए जाने वफा ये जुल्म न कर…” उन्होंने यह ट्वीट यूरोपीय सांसदों के कश्मीर जाने से रोकने के लिए लिखा था। लेकिन आज मीडिया से बातचीत पर सांसदों द्वारा जम्मू-कश्मीर पर दिए गए बयान के बाद एक बार फिर औवेशी हमलावर दिखे उन्होंने कहा की यूरोपीय सांसदों की विचारधारा हिटलर से जुड़ी है और वो इस्लामोफोबिया से ग्रस्त है। इतना ही नही औवेसी ने यह सवाल भी किया की इन सांसदों के दौरे का खर्च का क्या विदेश मंत्रालय ने उठाया?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.